बट बड़ा करवाने का चलन क्यों बढ़ रहा है?

बट बड़ा करवाने का चलन क्यों बढ़ रहा है?

फ़ैशन की दुनिया में कब कौन सा ट्रेंड सिर चढ़कर बोलने लगे कुछ कहा नहीं जा सकता है.

अब ‘ब्राज़ीलियन बट लिफ्ट’ यानी बीबीएल को ही ले लीजिए, इसकी खुमारी इस कदर छाई हुई है कि लोग अपनी जान तक दांव पर लगा रहे हैं.

तीन बच्चों की एक मां बीबीएल सर्जरी कराने इंग्लैंड से तुर्की चली गईं और इस जानलेवा सर्जरी में उनकी मौत हो गई.

लीह कैंब्रीज इंग्लैंड में लीड्स शहर की थी और उन्हें तुर्की के इज़मीर शहर के क्लिनिक में इस सर्जरी के दौरान तीन हार्ट अटैक आए.

यह जानकारी लीह कैंब्रीज के पार्टनर स्कॉट फ्रैंक्स ने ब्रिटिश अख़बार द सन को दी.

वैसे ये ट्रेंड तेजी से बढ़ क्यों रहा है और इसकी सर्जरी जानवेला क्यों है?

दरअसल इस सर्जरी में पेट से चर्बी लेकर बट यानी नितंब पर भरा जाता है.

जानलेवा क्यों?

29 साल की इस ब्यूटीशियन ने बीबीएल सर्जरी विदेश में कराने का फ़ैसला इसलिए लिया क्योंकि ब्रिटेन में यह महंगा है. फ्रैंक्स का कहना है कि वो पेट की बढ़ती चर्बी से आजिज आ गई थीं, इसलिए बीबीएल कराने का फ़ैसला लिया.

लीह के पड़ोसी बिल्कुल हैरान हैं. पड़ोसियों को लग रहा था कि लीह के पार्टनर इस सर्जरी के लिए तैयार नहीं थे.

ब्रिटेन में लीह कोई एकलौती नहीं हैं जो ऐसी चाहत रखती हैं. जॉय विलियम्स भी 2014 में अपने बट को बढ़ाने की सर्जरी कराने बैंकॉक गई थीं.

इसी सर्जरी के दौरान उनका ज़ख़्म संक्रमित हो गया. इन्फेक्शन इस कदर बढ़ा कि लंदन की 24 साल की जॉय की ऐनिस्थेटिक अवस्था में ही मौत हो गई.

तीन साल पहले पश्चिमी लंदन की 20 साल की क्लाउडिया एडरोटिमी की अमरीका में इसी सर्जरी के दौरान मौत हो गई थी. प्लास्टिक सर्जन ब्रयान मायोयु का कहना है कि बीबीएल सर्जरी दूसरे कॉस्मेटिक सर्जरी की तुलना में ज़्यादा ख़तरनाक नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *